पंडित का भाववाचक संज्ञा क्या है?

(A) विशेषज्ञ
(B) पांडित्य
(C) अध्येता
(D) माहिर

Answer : पांडित्य
Explanation : पंडित शब्द का भाववाचक संज्ञा पांडित्य है। जिस संज्ञा शब्द से किसी के गुण-धर्म, दोष, भाव, दशा, स्वभाव, अवस्था आदि का बोध होता है उन्हें भाववाचक संज्ञा (Bhav Vachak Sangya) कहा जाता है। भाववाचक संज्ञा के अंतर्गत अमूर्त रूप के भावों की संकल्पना की जाती है।
Tags : भाववाचक संज्ञा
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2021 अपडेट के लिए टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Pandit Ka Bhav Vachak Sangya