संविधान ने हिंदी को राजभाषा की मान्यता कब प्रदान की?

(A) 15 अगस्त, 1947
(B) 14 सितंबर, 1949
(C) 26 जनवरी, 1945 में
(D) 24 सितंबर, 1950

Answer : 14 सितंबर, 1949
Explanation : संविधान ने हिंदी को राजभाषा की मान्यता 14 सितंबर, 1949 को प्रदान की। संविधान के अनुच्छेद 343 में उल्लेख किया गया है कि देवनागरी लिपि के साथ हिंदी भारत की राजभाषा होगी। 1947 में जब भारत आजाद हुआ तो उसके सामने भाषा को लेकर बड़ी दुविधा थी, क्योंकि भारत में सैकड़ों भाषाएं और बोलियां बोली जाती है। 6 दिसंबर 1946 में आजाद भारत का संविधान तैयार करने के लिए संविधान का गठन हुआ। संविधान सभा ने अपना 26 नवंबर 1949 को संविधान के अंतिम प्रारूप को मंजूरी दे दी। आजाद भारत का अपना संविधान 26 जनवरी 1950 से पूरे देश में लागू हुआ। लेकिन राष्ट्रभाषा के तौर पर हिंदी और अंग्रेजी को चुना गया। संविधान सभा ने देवनागरी लिपी में लिखी हिंदी को अंग्रजों के साथ राष्ट्र की आधिकारिक भाषा के तौर पर स्वीकार किया था। 14 सितंबर 1949 को संविधान सभा ने एक मत से निर्णय लिया कि हिंदी ही भारत की राजभाषा होगी। तभी से हर साल 14 सितंबर को हिंदी दिवस मनाया जाता है। बतादें पहला हिंदी दिवस 14 सितंबर 1953 में मनाया गया था। हिंदी को गांधी जी ने जनमानस की भाषा भी कहा था।
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2021 अपडेट के लिए टेलीग्राम और YouTube चैनल पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Samvidhan Ne Hindi Ko Rajbhasha Ki Manyata Kab Pradan Ki