पारिस्थितिकी तंत्र की अवधारणा प्रथम बार किसने दी थी?

(A) वुडबरी के द्वारा
(B) क्लार्क के द्वारा
(C) ए. जी. टांसले के द्वारा
(D) ई.पी. ओडम के द्वारा

Question Asked : UP GIC Lecture Exam 2021
Answer : ए. जी. टांसले के द्वारा
Explanation : पारिस्थितिकी तंत्र की अवधारणा प्रथम बार ए. जी. टांसले ने दी थी। प्रकृति में जीवों के विभिन्न समुदाय एक साथ रहते हैं और परस्पर एक दूसरे के साथ-साथ तथा अपने भौतिक पर्यावरण के साथ एक पारिस्थितिक इकाई के रूप में अन्योन्यक्रिया करते हैं। हम इसे पारितंत्र कहते हैं। पारितंत्र या पारिस्थितिक तंत्र (ecosystem) शब्द की रचना 1935 में ए.जी. टान्सले के द्वारा की गई थी। एक पारितंत्र प्रकृति की क्रियात्मक इकाई है जिसमें इसके जैविक तथा अजैविक घटकों के बीच होने वाली जटिल अन्योन्यक्रियाएं सम्मिलित हैं। उदाहरण के लिए तालाब पारितंत्र का अच्छा उदाहरण है। पारितंत्र के घटकों को दो समूहों में बांटा गया है। इनमें पहले, अजैविक घटकों को निम्नलिखित तीन वर्गों में विभाजित किया गया है: (i) भौतिक कारक, (ii) अकार्बनिक पदार्थ, (iii) कार्बनिक पदार्थ तथा दूसरे जैविक घटक (सजीव) को उत्पादक, उपभोक्ता तथा अपघटक के रोप में बांटा गया है।
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2021 अपडेट के लिए टेलीग्राम और YouTube चैनल पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Paristhitiki Tantra Ki Avdharna Pratham Baar Kisne Di Thi