लकड़ावाला समिति का संबंध किससे है?

(A) अप्रत्यक्ष कर से
(B) कर सुधारों से
(C) गरीबी आकलन
(D) बैंकिंग लोकपाल

Answer : गरीबी आकलन
Explanation : लकड़ावाला समिति का संबंध गरीबी आकलन से है। भारत में निर्धनों की संख्या और अनुपात के अनुमान की कार्यविधि एवं परिकलन के विभिन्न पहलुओं पर विचार करने के लिए योजना आयोग ने वर्ष 1989 में प्रो. डी टी लकड़ावाला की अध्यक्षता में एक विशेषज्ञ समूह का गठन किया। इस समूह द्वारा निर्धनता रेखा को आधार रेखा मानने की सिफारिश की गई, जिसके अनुसार ग्रामीण क्षेत्रों में `56.64 के मासिक प्रतिव्यक्ति कुल व्यय को वर्ष 1973-74 की कीमतों पर गरीबी का आधार माना गया। इसका मूलाधार वर्ष 1973-74 में वर्तमान उपभोग ढाँचे के आधार पर प्रतिव्यक्ति दैनिक कैलोरी उपभोग था। आधार वर्ष के रूप में वर्ष 1973-74 को ही चुनने की सिफारिश समिति ने की। बता दे कि गरीबी आकलन के लिए अलघ समिति (1977), लकड़ावाला समिति (1989), तेंडुलकर समिति (1995) जैसी विभिन्न समितियों ने समय-समय पर अपनी रिपोर्ट दी हैं जिनमें गरीबी के विभिन्न मानदंडों को आधार बनाया गया।
Tags : भारत की महत्वपूर्ण समितियां
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2021 अपडेट के लिए टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Lakdawala Samiti Kisse Sambandhit Hai