अंधे के आगे रोए अपने नैन खोए का अर्थ और वाक्य प्रयोग

(A) नासमझ के सामने अपना दुख कहने से कोई लाभ नहीं होता
(B) बिना परिश्रम के सफलता
(C) मूर्ख लोगों में थोड़ा बुद्धिमान
(D) अकेला व्यक्ति कुछ नहीं कर सकता

Answer : नासमझ के सामने अपना दुख कहने से कोई लाभ नहीं होता
Explanation : अंधे के आगे रोए अपने नैन खोए का अर्थ 'नासमझ के सामने अपना दुख कहने से कोई लाभ नहीं होता' होता है। वाक्य प्रयोग — एक विद्वान् मजदूरों की सभा में जाकर अंग्रेजी में भाषण दे रहे थे किंतु श्रोतागण समझ न पाने के कारण शोर मचा रहे थे। सच है– अंधे के आगे रोग अपने नैन खोए। लोक अथवा समाज में प्रचलित उक्ति को लोकोक्ति कहते हैं। इन्हें कहावतें भी कहा जाता है। लोकोक्ति का अर्थ सीधा और सरल होता है। ये लोक-जीवन के संचित अनुभव को प्रकट करती हैं। मुहावरे व लोकोक्ति में अंतर : मुहावरा अधिकांशत: वाक्य में प्रयुक्त क्रिया पद होता है।
Tags : लोकोक्तियां, सामान्य हिन्दी प्रश्नोत्तरी
Useful for : UPSC, State PSC, SSC, Railway, NTSE, TET, BEd, Sub-inspector Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2021 अपडेट के लिए टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Andhe Ke Aage Roye Apne Nain Khoye Ka Arth