भजन कहो ताते भज्यो, भज्यो न एको बार में कौन सा अलंकार है?

(A) श्लेष अलंकार
(B) अनुप्रास अलंकार
(C) रूपक अलंकार
(D) यमक अलंकार

Answer : यमक अलंकार
Explanation : भजन कहो ताते भज्यो, भज्यो न एको बार, दूर भजन जासो कयो, सो तू भज्यो गँवार में यमक अलंकार है। जब किसी काव्य पंक्तियों में एक ही शब्द दो या दो से अधिक बार आए और उसका अर्थ हर बार भिन्न भिन्न हीं हो। तो वहां पर यमक अलंकार होता है। दूसरे शब्दों में कहे तो यमक अलंकार में एक शब्द का दो या दो से अधिक बार प्रयोग होता है और प्रत्येक प्रयोग में अर्थ की भिन्नता होती है। यमक अलंकार के दो भेद हैं– अभंग पद यमक और सभंग पद यमक।
Tags : अलंकार, श्लेष अलंकार
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
Related Questions
नवीनतम करेंट अफेयर्सजीके 2021 के लिए GKPU फ़ेसबुक पेज को Like करें
Web Title : Bhajan Kaho Tate Bhajyo Bhajyo Na Eko Baar Me Alankar