जम्‍मू-कश्‍मीर की पहली महिला फाइटर पायलट कौन बनी है?

(A) मान्‍यता सूदन
(B) माव्‍या सूदन
(C) अवनी चतुर्वेदी
(D) मोहना सिंह

Answer : माव्‍या सूदन
Explanation : जम्‍मू-कश्‍मीर की पहली महिला फाइटर पायलट माव्‍या सूदन बनी है। 23 साल की माव्‍या सूदन (Mawya Sudan) देश की 12वीं और राजौरी की पहली महिला फाइटर पायलट हैं। राजौरी में नौशेरा स्थित लंबेड़ी गांव निवासी माव्या सूदन फ्लाइंग ऑफिसर के रूप में IAF (Indian Air Force) में कमीशन किया है। एयर चीफ मार्शल राकेश कुमार सिंह भदौरिया की उपस्थिति में शनिवार को हैदराबाद स्थित डुंडिगल वायुसेना अकादमी में हुए पासिंग आउट परेड में माव्‍या इकलौती महिला फाइटर पायलट के रूप में शामिल रहीं। जम्मू के कार्मल कान्वेंट स्कूल में शुरूआती शिक्षा हासिल करने के बाद आगे की पढ़ाई के लिए माव्या चंडीगड़ चली गईं थीं, जहां से उन्होंने पॉलिटिकल साइंस में विषय में ग्रेजुएशन किया। माव्‍या ने वर्ष 2020 में भारतीय वायुसेना की प्रवेश परीक्षा पास की थी।
Related Questions
Web Title : Jammu Kashmir Ki Pahli Mahila Fighter Pilot Kaun Bani Hai