‘सत्यशोधक समाज’ की स्थापना किसने की?

(A) दयानंद सरस्वती
(B) ज्योतिराव गोविंदराव फुले
(C) महात्मा गांधी
(D) डॉ. भीमराव अम्बेडकर

Question Asked : 65th BPSC Prelims Exam 2019
Answer : ज्योतिराव गोविंदराव फुले
Explanation : 'सत्यशोधक समाज' की स्थापना वर्ष 1875 में ज्योतिराव गोविंदराव फुले द्वारा की गई थी। इस समाज का प्रमुख उद्देश्य ब्राह्राणवाद और उसकी कुरीतियों के विरुद्ध आवाज उठाना था। इन्होंने मूर्ति पूजा कर्मकांडों, पुजारियों के वर्चस्व, कर्म, पुनर्जन्म और स्वर्ण के सिद्धातों का पुरजोर विरोध किया। समाजसेवी, लेखक, दार्शनिक और क्रांतिकारी ज्योतिराव गोविंदराव फुले का जन्म 11 अप्रैल, 1827 को पुणे में हुआ था और निधन 28 नवंबर, 1890 को हुआ था। वैसे उनका असल नाम ज्योतिराव गोविंदराव फुले था लेकिन ज्योतिबा फुले के नाम से मशहूर हुए। उनका परिवार सतारा से पुणे आ गया था और माली का काम करने लगा था। माली का काम करने की वजह से उनके परिवार को 'फुले' के नाम से जाना जाता था।
Tags : आधुनिक इतिहास, बिहार, बिहार प्रश्नोत्तरी
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2022 अपडेट के लिए टेलीग्राम और YouTube चैनल पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Satyashodhak Samaj Ki Sthapna Kisne Ki