स्थगन प्रस्ताव क्या होता है?

(A) नियमित कार्यवाही
(B) अध्यक्ष की अनुमति के बिना कार्यवाही
(C) नियमित कार्यवाही स्थगित करना
(D) गंभीर और अविलंबनीय समस्या पर चर्चा

Answer : गंभीर और अविलंबनीय समस्या पर चर्चा
Explanation : अविललम्बनीय लोक महत्व के किसी निश्चित मामले, जिसे अध्यक्ष की अनुमति से पेश किया जा सकता है, पर चर्चा करने के उद्देश्य से सभा की कार्यवाही के स्थगलन हेतु प्रकिया को स्थगन प्रस्ताव कहते हैं। स्थगन प्रस्ताव ग्रहीत होने पर प्रस्ताव में उल्लिखित मामले पर चर्चा करने के लिए सभा के सामान्य कार्य को रोक दिया जाता है। स्थगन प्रस्ताव का उद्देश्य सरकार की हाल ही की किसी चूक अथवा असफलता के लिए, जिसके गम्भीर परिणाम हों, सरकार को आड़े हाथ लेना है। इसे स्वीकार किया जाना एक प्रकार से सरकार की निन्दा मानी जाती है। सरल शब्दों में कहे तो स्थगन प्रस्ताव एक ऐसा प्रस्ताव होता है, जो देश की किसी गंभीर और अविलंबनीय समस्या पर चर्चा के लिए लाया जाता है। ऐसी समस्या को टालना देश या समाज के लिए घातक हो सकता है, जैसे सुरक्षा, आपदा या कोई अन्य गंभीर समस्या। ऐसे प्रस्ताव पर चर्चा के लिए सदन की सारी नियमित कार्यवाही रोक दी जाती है, यानी स्थगित कर दी जाती है, इसलिए इसे स्थगन प्रस्ताव कहते हैं।
Tags : भारतीय राजव्यवस्था, राजव्यवस्था प्रश्नोत्तरी
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2021 अपडेट के लिए टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Sthagan Prastav Kya Hota Hai