गुरुमुखी लिपि के जनक कौन है?

(A) गुरु अंगद देव
(B) गुरु अर्जुन देव
(C) गुरु नानक
(D) गुरु गोबिन्द सिंह

Question Asked : Bihar Police Sub Inspector Exam 2018
Answer : गुरु अंगद देव (Guru Angad Dev)
गुरुमुखी लिपि के जनक गुरु अंगद देव है। गुरु नानक के उत्तराधिकारी गुरु अंगद देव ने नानक के पदों के लिए गुरुमुखी लिपि को स्वीकार किया। यह ब्राहृी से निकली थी और पंजाब में उनके समय में प्रचलित थी। गुरुमुखी लिपि में सिखों का धर्मग्रन्थ 'ग्रन्थ साहब' लिखा हुआ है। इस लिपि की वही वर्णमाला है, जो संस्कृत और भारत की अन्य प्रादेशिक भाषाओं की है।
Tags : कला और संस्कृति प्रश्नोत्तरी, सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2021 अपडेट के लिए टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Who Is The Founder Of Gurmukhi Lipi