नाग (Naag) को संस्कृत में क्या कहते हैं?

(A) दंशनम्
(B) सर्प:
(C) लिक्षा
(D) इनमें से कोई नहीं

Answer : सर्प:
Explanation : नाग (Naag) को संस्कृत में सर्प:, भुजड़्ग:, नाग:, फणकर:, फणधर: कहते है। संस्कृत में कीड़े मकोड़ों के नाम अधिकतर TGT, PGT, UGC, TET आदि परीक्षाओं में ​अधिकतर पूछे जाते है। Insects Name in Sanskrit के अंतर्गत संस्कृत में कीड़े मकोड़ों के 10 नाम भी अकसर गूगल पर सर्च किये जाते रहे है। संस्कृत में कीड़े मकोड़ों के मुख्य नाम जैसे– अजगर-अजगर:, कीड़ा-कीट:, चीटां-पिपीली, चूहा-मूषक:, झींगुर-झिल्लिका, तितली-शलभ:, नाग-सर्प:, मकड़ी-मर्कटक:, मछली-मत्स्य:, मेंढ़क-मण्डूक: आदि हैं। बता दे कि विश्व की सबसे प्राचीन भाषा संस्कृत (Sanskrit) उत्तराखंड की द्वितीय राजभाषा है। कईयों आधुनिक भारतीय भाषाएँ जैसे–हिंदी, मराठी, सिंधी, पंजाबी, नेपाली आदि संस्कृत से ही उत्पन्न हुई हैं। भारतीय संविधान की आठवीं अनुसूची में संस्कृत भाषा को भी सम्मिलित किया गया है।
Tags : संस्कृत अनुवाद, संस्कृत शब्दकोश
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2021 अपडेट के लिए टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Naag Ko Sanskrit Mein Kya Kehte Hain