गुलामगिरी का लेखक कौन है?

(A) बी. आर. अंबेडकर
(B) ज्योतिबा फुले
(C) महात्मा गांधी
(D) पेरियार

Answer : ज्योतिबा फुले
Explanation : ‘गुलामगिरी’ का लेखक ज्योतिबा फुले है। महाराष्ट्र में सर्वप्रथम ब्राह्मण विरोधी आंदोलन ज्योतिबा फुले ने शुरू किया। इन्हें ‘महात्मा’ की उपाधि दी गई। 1872 में उन्होंने एक पुस्तक ‘गुलामगिरी’ लिखी। उनकी एक अन्य पुस्तक का नाम ‘सार्वजनिक सत्य धर्म पुस्तक’ है। इन्होंने 1873 में ‘सत्यशोधक समाज’ की स्थापना की। अम्बेडकर ने बहिष्कार भारत, गांधी जी ने हरिजन तथा पेरियार ने तमिल रामायण (सच्ची रामायण) की रचना की।
Tags : आधुनिक भारत प्रश्नोत्तरी, इतिहास प्रश्नोत्तरी, सर्वोच्च न्यायालय
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2022 अपडेट के लिए टेलीग्राम और YouTube चैनल पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Gulamgiri Ke Lekhak Kaun Hai