जयपुर की ‘ब्लू पॉटरी’ को किसने अंतरराष्ट्रीय पहचान दी?

(A) कृपाल सिंह शेखावत
(B) अर्जुनलाल सेठी
(C) जमना लाल बजाज
(D) श्रीलाल जोशी

Answer : कृपाल सिंह शेखावत
Explanation : जयपुर की 'ब्लू पॉटरी' को कृपाल सिंह शेखावत ने अंतरराष्ट्रीय पहचान दी। 'ब्लू पॉटरी' को हिंदी में नील मृद्भांड कहते है। इसमें परम्परागत हरे एवं नीले रंग का प्रयोग होता है। यह अकबर के समय ईरान से लाहौर आयी। इसके बाद मानसिंह सिंह प्रथम लाहौर से इसे जयपुर लाये। जयपुर की ब्लू पॉटरी को पुनर्जीवित करने में कृपाल सिंह शेखावत का महत्वपूर्ण योगदान है। इस कला ने उन्हें अपार प्रसिद्धि दिलाई। कृपाल सिंह शेखावत मऊ शिखर ब्लू पॉटरी के जादूगर थे। उन्होंने 25 रंगों का प्रयोग कर नई शैली बनाई, जिसे ‘कृपाल शैली’ कहते हैं। इसके लिए उन्हें 1974 में पद्मश्री एवं 1980 में कलाविद की उपाधि दी गई। 2002 में उन्हें भारत सरकार ने शिल्प गुरु की उपाधि से सम्मानित किया। 1922 में जन्मे कृपाल सिंह शेखावत का 15 फरवरी 2008 को देहांत हो गया।
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2022 अपडेट के लिए टेलीग्राम और YouTube चैनल पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Jaipur Ki Blue Pottery Ko Kisne Antarrashtriya Pahchan Di