किस सिख गुरु की मृत्यु के लिए औरंगजेब जिम्मेदार है?

(A) गुरु गोविंद सिंह
(B) गुरु तेगबहादुर
(C) गुरु रामदास
(D) गुरु अंगददेव

Question Asked : [Chattisgarh PSC (Pre) Ist 2004-05]
Answer : गुरु तेगबहादुर
सिक्खों के नौंवे गुरु तेग बहादुर (1664-75 ई.) को मुगल बादशाह औरंगजेब द्वारा इस्लाम धर्म अस्वीकार किए जाने के कारण 1675 ई. में हत्या करवा दी गई थी। इसके पूर्व सिक्खों के पवित्र धार्मिक ग्रंथ 'आदिग्रंथ' के संकलनकर्ता सिक्खों के पांचवे गुरु अर्जुनदेव को मुगल बादशाह जहांगीर द्वारा अपने विद्रोही पुत्र खुसरो को आर्शीवाद और शरण देने के आरोप में 1606 ई. में फांसी की सजा दी गई थी। गुरु अर्जुनदेव को मुगल बादशाह जहांगीर द्वार अपने विद्रोही पुत्र खुसरो को आर्शीवाद और शरण देनेे के आरोप में 1606 ई. में फांसी की सजा दी गई थी। गुरु अर्जुनदेव ने ही सूफी संत मियां मीर द्वारा अमृतसर में हरमिंदर साब की नींव डलवाई। कालांतर में सिक्ख शाासक रणजीत सिंह द्वारा हरमिंदर साहब में स्वर्ण जड़नावे के बाद अंग्रेजों द्वारा इसे 'स्वर्ण मंदिर (Golden Temple) नाम दिया गया। सिक्खों के चौथे गुरु रामदास ने अकबर द्वारा दी गई 500 बीघा जमीन पर 'अमृतसर' नगर की स्थापना किया। सिक्खों के दसवें और अंतिम गुरु गोविंद सिंह (1675-1707 ई.) का जन्म पटना में हुआ। इन्होंने पंजाब की तराई मखोवल (आनंदपुर) में अपना मुख्यालय बनाया तथा 'पाहुल' प्रथा की शुरुआत की। गुरु गोविंद सिंह ने सन् 1699 ई. में 'खालसा' का गठन किया तथा प्रत्येक सिख को 'पंचकार' कंघा, कड़ा, कच्छ, केश और कुषाण धारा करने का आदेश दिया। अपनी मृत्यु के पहले इन्होंने सिक्कों की गुरु परंपरा को समाप्त करने की घोषणा की।
Tags : इतिहास प्रश्नोत्तरी, प्राचीन काल भारत, मध्यकालीन भारत
Useful for : UPSC, State PSC, SSC, Railway, NTSE, TET, BEd, Sub-inspector Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2022 अपडेट के लिए टेलीग्राम और YouTube चैनल पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Kis Sikh Guru Ki Mrityu Ke Liye Aurangzeb Jimmedar Hai