स्मिता पाटिल कैसे मरी थी?

Answer : बेटे के जन्म के समय हुई दिक्कतों के कारण
Explanation : स्मिता पाटिल की मौत अपने बेटे प्रतीक बब्बर के जन्म के समय हुई दिक्कतों के कारण हुई थी। बता दें कि स्मिता की मौत से 15 दिन पहले ही यानी 28 नवंबर 1986 को प्रतीक बब्बर का जन्म हुआ था। समानांतर सिनेमा में खास पहचान बनाने वालीं स्मिता पाटिल का 17 अक्टूबर, 1955 में पुणे में हुआ था। कैमरे से उनका पहला सामना दूरदर्शन में बतौर प्रस्तुतकर्ता हुआ था। सिनेमा में उन्हें लाने का श्रेय श्याम बेनेगल को जाता है। बेनेगल ने 1974 में स्मिता को ‘चरणदास चोर’ फिल्म से लांच किया था। महज तीन साल बाद 1977 में उन्हें ‘भूमिका’ के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार मिला था। उनके खाते में मंथन, चक्र, बाजार, अर्थ और मंडी जैसी फिल्में दर्ज हैं। बेटे प्रतीक बब्बर के जन्म के समय हुई दिक्कतों के कारण 13 दिसंबर, 1986 को 31 साल की उम्र में स्मिता का निधन हो गया।
Related Questions
Web Title : Smita Patil Kaise Mari Thi