राजा राममोहन राय ने कौन से समाज की स्थापना की थी?

(A) ब्रह्म समाज
(B) आत्मीय सभा
(C) भारतीय समाज
(D) कल्यान समाज

Answer : ब्रह्म समाज
Explanation : राजा राममोहन राय ने वर्ष 1828 में ब्रह्म समाज की स्थापना की थी। इसका पहले नाम ब्रह्म सभा था। आधुनिक भारत के जनक माने वाले वाले राजाराम मोहन राय बंगाल के मुर्शिदाबाद जिले में 22 मई, 1772 को ब्राह्मण रमाकांत राय के घर हुआ था। वह कम उम्र में ही वह साधु बनना चाहते थे लेकिन माता का प्रेम उनके इस रास्ते में बाधा बना। पिता रमाकांत चाहते थे कि उनके बेटे को ऊंची शिक्षा मिले। इसलिए उन्होंने कम उम्र में ही राममोहन राय को पटना भेज दिया गया। वहां जाकर उन्होंने अंग्रेजी शिक्षा प्राप्त की और समाज में बदलाव की लहर लाने का निश्चय किया। भारतीय समाज में व्याप्त कई कुरीतियों को खत्म करने वाले महान समाज सुधारक राजाराम मोहन राय ने अपनी ही भाभी को ‘सती प्रथा’ के तहत सती होते देख महिलाओं के अधिकारों के लिए लड़ने का निर्णय लिया था। तत्कालीन गवर्नर जनरल लार्ड विलियम बेंटिक की मदद से 1829 में ‘सती प्रथा’ के विरूद्ध कानून बनवाया। इसके बाद सामाजिक सुधार के लिए 1828 में ब्रह्म समाज की स्थापना की। उन्होंने बाल विवाह का भी कड़ा विरोध किया। राजा राममोहन राय को मुग़ल सम्राट अकबर द्वितीय की ओर से ‘राजा’ की उपाधि दी गई थी उनका सात सितंबर, 1833 को इंग्लैंड में निधन हो गया।
Tags : आधुनिक भारत के जनक, ब्रह्म समाज, राजा राममोहन राय
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2022 अपडेट के लिए टेलीग्राम और YouTube चैनल पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Raja Rammohan Roy Ne Kaun Se Samaj Ki Sthapna Ki Thi