भारत में पाश्चात्य शिक्षा का वास्तविक रूप से प्रारंभ कब से माना जाता है?

(A) 1813 का चार्टर ऐक्ट
(B) 1793 का चार्टर ऐक्ट
(C) 1929 का शारदा ऐक्ट
(D) भारतीय शिक्षा पर मैकाले का कार्यवृत्त (मिनट), 1835

Answer : 1813 का चार्टर ऐक्ट
Explanation : भारत में पाश्चात्य शिक्षा का वास्तविक रूप से प्रारम्भ वर्ष 1813 के चार्टर ऐक्ट से माना जा सकता है। ईस्ट इंडिया कंपनी को भारत में बढ़ते साम्राज्य तथा राजनीतिक शक्ति के कारण उसे एक ऐसे वर्ग की आवश्यकता हुई, जो कि प्रशासन और व्यापार के कार्यों में उसकी सहायता कर सके। इसके लिए वर्ष 1813 में ब्रिटेन की संसद द्वारा पारित चार्टर अधिनियम में भारत में शिक्षा के विकास हेतु प्रतिवर्ष ₹ 1 लाख के अनुदान का प्रावधान किया गया था।
Tags : पंचायती राज संस्थान
Useful for : Quiz Programme, Interview & Competitive Exams
करेंट अफेयर्सजीके 2022 अपडेट के लिए टेलीग्राम और YouTube चैनल पर सब्सक्राइब करें
Related Questions
Web Title : Bharat Mein Pashchatya Shiksha Ka Vastavik Roop Se Prarambh Kab Se Mana Jata Hai