खीरे में कड़वाहट किसके कारण होती है?

(A) मेमोर्डिकोसाइट
(B) कुकर बिटेसिन
(C) मार्मोलोसिन
(D) ओलिमोरेसिन

Answer : कुकर बिटेसिन
Explanation : खीरे में कड़वाहट कुकर बिटेसिन के कारण होती है। जबकि करेले में कड़वाहट मेमोर्डिकोसाइट से, बेल में कड़वाहट मार्मोलोसिन से, पीपर में कड़वाहट ओलिमोरेसिन से होती है। खीरा ज़ायद की एक प्रमुख फसल है। जिसका सलाद के रूप में सबसे ज्यादा प्रयोग किया जाता है। इसके द्वारा विभिन्न प्राकर की मिठाइयाँ भी तैयार की जाती है। खीरा में अधिक मात्रा में फाइबर मौजूद होता है। पीलिया, प्यास, ज्वर, शरीर की जलन, गर्मी के सारे दोष, चर्म रोग में लाभदायक है।
Useful for : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
Related Questions
नवीनतम करेंट अफेयर्सजीके 2021 के लिए GKPU फ़ेसबुक पेज को Like करें
Web Title : Khire Mein Kadwahat Kiske Karan Hota Hai